No icon

24hnbc

आज का पंचांग 4 अक्टूबर, गुरुवार नवरात्रि नवमी तिथि

24hnbc.com
समाचार :-
राहुकाल अपराह्न 03 बजे से 04 बजकर 30 मिनट तक। नवमी तिथि अपराह्न 02 बजकर 21 मिनट तक उपरांत दशमी तिथि का आरंभ। उत्तराषाढ़ नक्षत्र रात्रि 10 बजकर 51 मिनट तक उपरांत श्रवण नक्षत्र का आरंभ। अमृत काल शाम 04 बजकर 52 मिनट से 06 बजकर 22 मिनट तक रहेगा।
राष्ट्रीय मिति आश्विन 12, शक संवत् 1944, आश्विन, शुक्ल, नवमी, मंगलवार, विक्रम संवत् 2079। सौर आश्विन मास प्रविष्टे 18, रवि-उल्लावल 07, हिजरी 1444 (मुस्लिम), तदनुसार अंग्रेजी तारीख 04 अक्टूबर सन् 2022 ई०। सूर्य दक्षिणायन दक्षिण गोल, शरद ऋतु।
राहुकाल अपराह्न 03 बजे से 04 बजकर 30 मिनट तक। नवमी तिथि अपराह्न 02 बजकर 21 मिनट तक उपरांत दशमी तिथि का आरंभ। उत्तराषाढ़ नक्षत्र रात्रि 10 बजकर 51 मिनट तक उपरांत श्रवण नक्षत्र का आरंभ।
अतिगण्ड योग पूर्वाह्न 11 बजकर 23 मिनट तक उपरांत सुकर्मा योग का आरंभ। कौलव करण अपराह्न 02 बजकर 21 मिनट तक उपरांत गर करण का आरंभ। चंद्रमा दिन रात मकर राशि पर संचार करेगा।
आज का व्रत त्योहार - नवरात्रि की नवमी तिथि, महानवमी का व्रत।
सूर्योदय का समय 4 अक्टूबर 2022 : सुबह 06 बजकर 15 मिनट पर।
सूर्यास्त का समय 4 अक्टूबर 2022 : शाम 06 बजकर 04 मिनट पर।
आज का शुभ मुहूर्त 4 अक्टूबर 2022 :
अभिजीत मुहूर्त दोपहर 11 बजकर 46 मिनट से 12 बजकर 33 मिनट तक। विजय मुहूर्त दोपहर 02 बजकर 08 मिनट से 02 बजकर 55 मिनट तक रहेगा। निशिथ काल मध्‍यरात्रि 11 बजकर 45 मिनट से 12 बजकर 34 मिनट तक। गोधूलि बेला शाम 05 बजकर 52 मिनट से 06 बजकर 16 मिनट तक। अमृत काल शाम 04 बजकर 52 मिनट से 06 बजकर 22 मिनट तक रहेगा। रवि योग पूरे दिन रहेगा।
आज का अशुभ मुहूर्त 4 अक्टूबर 2022 :
राहुकाल दोपहर 03 बजे से 04 बजकर 30 मिनट तक। सुबह 09 बजे से 10 बजकर 30 मिनट तक यमगंड रहेगा। दोपहर 12 बजे से 01 बजकर 30 मिनट तक गुलिक काल रहेगा। दुर्मुहूर्त काल सुबह 08 बजकर 37 मिनट से 09 बजकर 24 मिनट तक रहेगा इसके बाद मध्यरात्रि 10 बजकर 57 मिनट से 11 बजकर 45 मिनट तक।
आज का उपाय : दुर्गा माता की पूजा करें, ग्यारहवें अध्याय का पाठ करें।
(आचार्य कृष्णदत्त शर्मा)